सूचना का अधिकार

सूचना के अधिकार की धारा 4(1) ब के तहत आवश्यक।

1. संगठनात्मक व्यवस्था

अ. अधिकारी तथा उनके फोन नंबरः

ब. कार्य तथा कर्त्तव्य

2. अधिकारियों के कार्य वितरण

3.निर्णय लेने के लिए अपनाई जाने वाली प्रक्रियाः-

प्रत्येक कर्मचारी कार्यों/कर्तव्यों के निर्वहन के लिए अपने वरिष्ठ अधिकारी के प्रति उतरदायी हैं। महानिदेशक/निदेशक पद (rank) के अधिकारी निर्णय लेने वाले प्राधिकारी होते हैं।

4. आधिकारिक कार्यों के निर्वहन के लिए नियमः-

अकादमी को सौपें गए विभिन्न कार्यों /कर्तव्यों का निर्वहन निर्धारित किए गए समय में किया जाता है। कार्यालय अपनेकार्यों/कर्तव्यों का निर्वहन विभागीय नियमावली (manual) में निर्धारित मानदंडों के अनुसार करता है।

5. अकादमी द्वारा पालन किए जाने वाले नियमों, निर्देशों नियमावली तथा अभिलेखों का विवरण:

- अधिकारियों तथा कर्मचाारियों की निदेशिका:

अकादमी के अधिकारियों तथा कर्मचारियों की एक वर्गीकरण सूचि हर वर्ष बनाई जाती है तथा यह कार्यालय में उपलब्ध है। हलांकि, यह सूचि वरिष्ठता, के आधार पर नहीं बनाई जाती है। लेकिन वर्ग ‘अ‘ के अधिकारियों का संपर्क विवरण 1(a) के अंतर्गत देखा जा सकता है।

7. मासिक पारिश्रमिक

8.बजट तथा बजटीय नियंत्रण

- अकादमी के बारे में या अकादमी द्वारा जारी की गई सूचना इलैक्ट्रनिक रूप में भी उपलब्ध है।

सभी सूचना इलैक्ट्रानिक प्रारूप में उपलब्ध है। चाहे वह निशुल्क में या निर्धारित मूल्य पर हों।

- जानकारी प्राप्त करने के लिए नागरिकों के लिए उपलब्ध सुविधाएं

जानकारी प्राप्त करने के लिए नागरिकों को प्रदान की गई सुविधा किसी भी जानकारी के लिए निर्धारित शुल्क का भुगतान नकद डिमांड ड्राफट या बैंकर चैक के द्वारा लेखापरीक्षा अधिकारी (प्रशासन) या (ड्राईंग) तथा वितरण अधिकारी, राष्ट्रीय लेखापरीक्षा तथा लेखा अकादमी, शिमला के पक्ष में करे।

9.नागरिक सूचना अधिकारी