सेवाकालीन प्रशिक्षण

उद्देश्य: आई ए और ए एस अधिकारियों की मदद करना

नया ज्ञान प्राप्त करें, मौजूदा को उन्नत करें
दक्षताओं में समीक्षा और उपाय अंतराल (नेतृत्व, प्रबंधन और शासन)
करियर के दौरान विकसित पूर्वाग्रहों और विश्वासों को चुनौती
नैतिक आवश्यकताओं और वास्तविकता पर ध्यान दें / ताज़ा करें

निरन्तर व्यावसायिक शिक्षा अधतन सभी लोक सेवा अधिकारियों की आवश्यकता होती है। अकादमी भा. ले. तथा ले. से के सेवाकालीन अधिकारियों के प्रशिक्षण की भी व्यवस्था करती है,जो कि भा. ले. तथा ले. वि. की योजनाओं, एवं विभिन्न अधिकारियों द्वारा उनके पर्यवेक्षकों से इक्ठ्ठी की गई विस्तृत प्रशिक्षण आवश्यकताओं के विश्लेषण के परिणाम पर आधरित होती है। वर्ष 2016- 2017 में एक प्रयोग किया गया था जिसमें क्षेत्रीय अधिकारियों तथा उनकें अफसरों से यह जानने का प्रयास किया गया कि वे क्या सीखना,एवं स्वंय को किस विषय में उन्नत करना चाहते है तथा अपने अधीनस्थ भारतीय लेखापरीक्षा तथा लेखा सेवा अधिकारियों से क्या अपेक्षा रखतेहैं।अधिकारियों की प्रतिक्रिया के आधार पर अधिकारियों द्वारा उनके करियर के विभिन्न स्तरों पर पहचाने गए ज्ञान प्रदान करने तथा कौशलों के विकास के क्षेत्रों को पहचाना जाता है। इससे यहसुनिश्चितहो जाता है कि अधिकारियों को सही निवेश प्रदान किए जातेहैं।

इन-सर्विस ट्रेनिंग कैलेंडर 2017-18

इन-सर्विस ट्रेनिंग कैलेंडर 2017-18
अनु क्रमांक। कोर्स का नाम
1 राष्ट्रीय वित्तीय प्रबंधन संस्थान (NIFM) से प्रोबेशनर्स के लिए ऑडिट मॉड्यूल
2 JAG के चयन ग्रेड में हाल ही में पदोन्नत हुए या पदोन्नत होने वाले IA और AS अधिकारियों के लिए अभिविन्यास प्रशिक्षण कार्यक्रम
3 SAG के चयन ग्रेड में हाल ही में पदोन्नत हुए या पदोन्नत होने वाले IA और AS अधिकारियों के लिए अभिविन्यास प्रशिक्षण कार्यक्रम
4 JAG के चयन ग्रेड में हाल ही में पदोन्नत हुए या पदोन्नत होने वाले IA और AS अधिकारियों के लिए अभिविन्यास प्रशिक्षण कार्यक्रम
5 आईआरटीएस और आईपीओ के परिवीक्षाधीन अधिकारियों के लिए प्रशंसा पाठ्यक्रम
6 नए शामिल आईए और एएस अधिकारियों के लिए अभिविन्यास प्रशिक्षण कार्यक्रम
7 राष्ट्रीय वित्तीय प्रबंधन संस्थान (NIFM) से प्रोबेशनर्स के लिए ऑडिट पर एक्सपोजर कोर्स
8 प्रधान महालेखाकार / महानिदेशक (1992 बैच) के रूप में पदोन्नत किए गए वरिष्ठ आईए और एएस अधिकारियों के लिए अभिविन्यास प्रशिक्षण कार्यक्रम